Tuesday, April 20, 2021

एक एहसास


 

धड़कनों की आवाज़ सुनो कभी 

तारों सी बज उठती है  संगीत 

यादों से भरी बातें संगीत के बोल 

जिन्हें पढ़कर बनाये प्यार की धुन 

कभी ये तेज़ बजतीं तो कभी आहें 

समुन्दर पर हिंडोलती लहरें जैसे 

यादों की उड़नखटोले में बसर कर 

दुनिया की सैर कर मानों एक ख़ुशी 

जैसे मैं कल फिर से कॉलेज हो आयी 

यादें, धड़कन, बातें, मुलाकातें, प्यार 

सब कुछ तो था वहां जहाँ पढ़ रहे थे 

एक एहसास हवा के झोंके सा आया 


~ फ़िज़ा 

No comments:

कोवीड इस अचूक से आ मिला !

 सकारात्मक  होना क्या इतना बुरा है ? के कोवीड भी इस अचूक से आ मिला  जैसे ही हल्ला हुआ के मेहमान आये है  नयी दुल्हन की तरह कमरे में बंद हो गय...