Sunday, June 14, 2020

जीवन तो है चलने का नाम ...!



जीवन है चलने का नाम 
देते यही सबक और धाम  
कुछ लक्ष्य जीवन के नाम 
रख देते हैं समाज में पैगाम 
चंद गंभीरता से पहुँचते मुकाम 
मगर ज़िन्दगी के ख़ुशी के नाम 
कर देते अपने  आप को कुर्बान 
ज़िन्दगी इतनी सस्ती और कम 
कब हुई दोस्तों ऐसे सरे आम 
जीवन तो है चलने का नाम 

~ फ़िज़ा 
#shradhanjali #sushantsignrajput #manasikavasaad #mentalillness #depression #seekhelp

Sunday, June 07, 2020

इंसान नहीं न तू बना?



जातिवाद क्या है ये इस कदर अज्ञात था 
प्राथमिक कक्षा में रंगभेद तो पढ़ाया गया 
मगर तब उसे औरों की परेशानी बताया 
विशेषाधिकार में जीते हैं बहुत कम जानते हैं
शायद इसी वजह से जातिवाद, अस्पृश्यता 
एक कहानी, एक खबर और एक सबक 
जो पाठशाला में सभी को पढ़ाया जाता है 
कितने इन कहानियों से हकीकत को समझते ?
इसका तो कोई भी अनुमान नहीं लगाया 
मगर परीक्षा में अंक सभी को अव्वल मिला 
पढ़-लिखकर विद्वान तो बने मगर इंसान नहीं 
भेद-भाव के लिए कुछ नहीं तो कारण कई ढूंढे
रंग-भेद , तो जातिवाद, तो कभी धर्म-भेद 
जब इन सब से दिल भर जाए सभी का तो 
लैंगिक भिन्नता को ही एक खिलौना बना दिया 
सबसे अधिक अकल्मन्द ये कैसा तू बन गया ?
सबकुछ बन गया, बहुत कुछ कमा लिया मगर 
इंसान नहीं न तू बना? इंसान नहीं तू बना!

~ फ़िज़ा 
#blacklivesmatter , #NoJusticeNoPeace, #StopRacism 

अस्पताल

अस्पताल  एक ऐसी जगह जहाँ जीवन पलता है  जीवन खेलता बेहलता  ख़ुशी देता है  उम्मीद से भरी आशायें रोशन होती है ! अस्पताल  जहाँ जीवन-मृत्यु का तां...