Saturday, March 21, 2020

आओ संग दूर बहुत दूर हमें जाना है


दूर बहुत दूर मुझे जाना है 
बादलों के उस पार जाना है 
सफर लम्बा है मगर हौसला है 
कठिन रास्ते दूर मंज़िल जाना है 
ज़िन्दगी के खेल में चलते जाना है 
संग साथ हों तो सफर चल जाना है 
आओ संग दूर बहुत दूर हमें जाना है 

~ फ़िज़ा 

No comments:

कोवीड इस अचूक से आ मिला !

 सकारात्मक  होना क्या इतना बुरा है ? के कोवीड भी इस अचूक से आ मिला  जैसे ही हल्ला हुआ के मेहमान आये है  नयी दुल्हन की तरह कमरे में बंद हो गय...