Wednesday, March 09, 2011

Something tht I read - I am neither bitter nor cynical but I do wish there was less immaturity in political thinking.
Franklin D. Roosevelt

No comments:

जीवन तो है चलने का नाम ...!

जीवन है चलने का नाम  देते यही सबक और धाम   कुछ लक्ष्य जीवन के नाम  रख देते हैं समाज में पैगाम  चंद गंभीरता से पहुँचते मुकाम  ...